Jugalbandi AI Chatbot: Microsoft Launches Jugalbandi Multilingual AI Chat Bot For Rural India Check Details


Jugalbandi AI Chatbot : एआई की दुनिया का विस्तार हो रहा है. अब माइक्रोसॉफ्ट ने मंगलवार को एक लोकप्रिय मैसेजिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से जेनरेटिव एआई बहुभाषी चैटबॉट लॉन्च किया है. इस एआई चैटबॉट का नाम जुगलबंदी (Jugalbandi) है. जुगलबंदी के लिए जिस लोकप्रिय मैसेजिंग प्लेटफॉर्म के साथ कॉलेबोरेशन किया गया है, वो वॉट्सएप है. जुगलबंदी को विशेष रूप से ग्रामीण भारत के उन क्षेत्रों को कवर करने के लिए बनाया गया है जहां मीडिया की पहुंच सरलता से नहीं है. इस एआई चैटबॉट के सहारे से ग्रामीण लोग सरकार सरकार की कल्याणकारी एक्टिविटी और योजनाओं के बारे में जान सकेंगे.

कई भाषाओं को समझता है जुगलबंदी

इस एआई चैटबॉट का इस्तेमाल ग्रामीण लोग वॉट्सएप पर कर सकेंगे. इससे वे किसी भी सरकारी वेलफेयर योजना से अनजान नहीं रहेंगे. वॉट्सएप एक ऐसा प्लेटफार्म है, जिसका इस्तेमाल लगभग सभी लोग कर रहे हैं. जुगलबंदी चैटबॉट को AI4Bharat ने IIT मद्रास के सहयोग से डेवलप किया है. आपको पता है, इसके सबसे खास बात क्या है? जुगलबंदी करीब 10 भाषाओं को समझ सकता है. इसका उद्देश्य कई भाषाओं में यूजर्स के सवालों को समझकर सहायता प्रदान करना है. इतना ही नहीं, जुगलबंदी टाइपिंग और वाइस नोट दोनों को समझ सकता है. 

कैसे काम करता है जुगलबंदी? 

यूजर से सवाल मिलने के बाद, चैटबॉट संबंधित प्रोग्राम से जानकारी प्राप्त करता है. जानकारी अक्सर केवल अंग्रेजी में उपलब्ध होती है, लेकिन जुगलबंदी यूजर्स को उनकी स्थानीय भाषा में जानकारी शो करता है. माइक्रोसॉफ्ट के अनुसार, जुगलबंदी AI4Bharat और Microsoft Azure OpenAI सर्विस के AI मॉडल को कन्बाइन करता है, जिससे यूजर्स और चैटबॉट के बीच सहज बातचीत हो सकती है. बता दें कि जुगलबंदी को अप्रैल में लॉन्च किया गया था और भारत की राजधानी नई दिल्ली के पास एक गांव बीवान में इसकी टेस्टिंग भी हुई है. 

live reels News Reels

यह भी पढ़ें – Google Pay में अब RuPay क्रेडिट कार्ड से भी कर पाएंगे UPI पेमेंट, सिर्फ इन बैंकों के कार्ड चलेंगे



Source link